FT: मैनचेस्टर यूनाइटेड (फलइनि 90+1') 1-0 यंग बॉयज 


बेल्जियन मिडफील्डर मारूआन फलइनि के स्टॉपेज टाइम विनर की बदौलत मैनचेस्टर यूनाइटेड ने बीती रात हुए चैंपियंस लीग मैच में यंग बॉयज को 1-0 से हरा दिया। इस जीत के साथ ही रेड डेविल्स ने कंपटिशन के लास्ट-16 में एंट्री कर ली।


होजे मोरीनियो की साइड ने मैच में ज्यादातर वक्त तक संघर्ष किया और लग रहा था कि वह अपने घर में लगातार दूसरी बार 0-0 का ड्रॉ खेलेंगे ने फलइनि ने चतुराई दिखाते हुए ऐसा होने से रोक लिया।


हालांकि ​मैनचेस्टर यूनाइटेड के लिए हालात बुरे हो सकते थे लेकिन होम टीम के करिश्माई गोलकीपर डेविड डे हेया ने सेकंड हाफ में सब्सिट्यूट उलिसेस गार्सिया के डिफ्लेक्टेड एफर्ट पर बेहतरीन गोलकीपिंग करते हुए यूनाइटेड को बचा लिया।

​​यूनाइटेड की इस जीत और स्पैनिश टीम वलेंसिया की युवेंटस के खिलाफ 1-0 की हार का मतलब है कि रेड डेविल्स ने इटैलियन टीम के साथ एक ग्रुप गेम बाकी रहते ही नॉकआउट स्टेज में जगह बना ली है।


मोरीनियो ने क्रिस्टल पैलेस के खिलाफ शर्मनाक ड्रॉ के बाद इस मैच में अपनी टीम में कई बदलाव करते हुए पॉल पोग्बा और रोमेलु लुकाकू को बेंच पर छोड़ दिया था। जबकि एलेक्सिस सांचेज़ को स्क्वॉड में जगह ही नहीं मिली।


लुकाकू की जगह स्टार्ट कर रहे मार्कस रैशफोर्ड ने पहले हाफ में अपनी घटिया फिनिशिंग के चलते गोल करने के कम से कम चार आसान मौके गंवाए।


इन मौकों में तो एक बार जेसी लिंगार्ड द्वारा वन ऑन वन पोजिशन में डाले गए रैशफोर्ड ने अपने शॉट पर बॉल को गोलकीपर के साथ क्रॉसबार के भी ऊपर से निकाल दिया।