शनिवार को अइबर के खिलाफ रियल मैड्रिड को मिली 3-0 की हार के बाद इस बात की पुष्टि हो गई है कि पिछले एक दशक में यह रियल मैड्रिड का सबसे खराब डिफेंस है। लीग में अब रियल ने हर गेम में लगभग डेढ़ गोल की दर से 19 बार कंसीड किया है।


अइबर के खिलाफ मिली हार के बाद सोलारी ने कहा था, 'हम जो गोल्स कंसीड कर रहे हैं उन्हें कम करने की कोशिश करेंगे और स्कोर करने वाले गोल्स की संख्या को बढ़ाएंगे। हम ऐसा ही करने की कोशिश कर रहे हैं।'


स्पैनिश अख़बार AS के मुताबिक बतौर केयरटेकर कोच रियल को लगातार चार गेम्स जीताने वाले सोलारी के हेड कोच बनने के बाद उनकी शुरुआत खराब रही है। अइबर के खिलाफ उन्होंने अपने फर्स्ट चॉइस के तीन डिफेंडर्स को पिच पर उतारा था।

अल्वारो ओड्रिओज़ोला की इंजरी के कारण सोलारी ने दानी कार्वाहाल को बेंच से पिच पर भेजा था। बता दें कि बार्सिलोना के खिलाफ सीजन के पहले एल क्लासिको गेम में मार्सेलो, सर्जियो रामोस और रफाएल वरान ने शुरुआत की थी। इस गेम में नाचो इंजर्ड कार्वाहाल की जगह राइट पर प्लेस किए गए थे।


सेविया के खिलाफ 3-0 से मिली हार में ये चारों ही प्लेयर्स स्टार्टिंग इलेवन का हिस्सा थे। ऐसा लग रहा है कि रियल मैड्रिड के फर्स्ट चॉइस चारों डिफेंडर एक साथ किसी क्राइसिस से गुज़र रहे हैं।


बता दें कि 2008-09 सीजन में जर्मन कोच बर्न्ड शुस्टर के अंडर रियल ने कई सारे गोल्स कंसीड किए थे। हालांकि शुस्टर के अंडर सीजन के इस पड़ाव पर रियल ने केवल 3 गेम्स हारे थे और 13 गेम्स खेलने के बाद सोलारी की टीम से 10 गोल ज्यादा स्कोर किए थे।