बीती रात क्रिस्टल पैलेस के खिलाफ ओल्ड ट्रैफर्ड में खेले गए गेम में स्कोरलेस ड्रॉ के बाद मैनचेस्टर यूनाइटेड के मैनेजर होज़े मोरीनियो ने अपने प्लेयर्स की आलोचना की है। उनके मुताबिक इस गेम में यूनाइटेड प्लेयर्स में महत्वकांक्षा और जोश की कमी थी।


इस हार के बाद रेड डेविल्स लीग टेबल में सातवें नंबर पर हैं और लीग लीडर मैनचेस्टर सिटी से 14 पॉइंट्स से पीछे चल रहे हैं। फोर फोर टू के मुताबिक ओल्ड ट्रैफर्ड में विजिटर टीम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए गोल करने के कई मौके बनाए पर उसे गोलपोस्ट में ले जाने में सफल नहीं हुए।


मैनचेस्टर यूनाइटेड की बात करें तो टीम के अटैक को संभाल रहे एंथनी मार्सियाल और रोमेलु लुकाकू दोनों ही यहां संघर्ष करते दिखे। स्काई स्पोर्ट्स से बातचीत के दौरान मोरीनियो ने कहा, 'यह एक बुरा पॉइंट है।'

दिसंबर के अंत तक टीम्स का ऑब्जेक्टिव टॉप फोर को चेस करने और आठवें स्थान से लीग टेबल में स्टेप बाई स्टेप ऊपर जाने का होता है और यह एक बुरी शुरुआत है। जाहिर सी बात है कि मैं अपोनेंट टीम को क्रेडिट दूंगा पर मैं यह दिखाने की कोशिश नहीं करूंगा कि हमने ड्रॉ खेला क्योंकि वे लोग फेनोमेनल थे।'


'मैने उन्हें सराहा है। वे लोग डिफेंसिवली काफी अच्छे थे। क्रिस्टल के स्टॉपर ने कई सारे शानदार गोल बचाए। मुझे लगता है कि उन्होंने अपना गेम खेला और अच्छा खेला। गेम के फर्स्ट हाफ में हमें थोड़ा और अग्रेशन चाहिए था क्योंकि हमने स्पेस को अच्छे से खोजा।'


'हम जानते थे कि अपोनेंट स्पेस नहीं दे रहे थे पर हम में उसे पाने के लिए ज्यादा महत्वकांक्षा या इंटेंसिटी नहीं थी। दूसरे हाफ में हमें जो बड़े मौके मिले थे उसमें हमें स्कोर करने की जरूरत थी।'


'कम से कम हम स्कोरिंग पोज़ीशन में पहुंचे पर मुझे लगता है कि पहले मोमेंट से चेज ना कर एक बार फिर से हमने वक्त बर्बाद किया। हमें इंप्रूव करने की जरूरत है। मैं इस परफॉर्मेंस से खासा हैरान हूं।'