रियल मैड्रिड की नज़र एक डबल डील पर है जिसमें वह मैनचेस्टर यूनाइटेड के अटैकर मार्कस रैशफोर्ड और टोटेन्हम हॉट्सपर प्लेमेकर क्रिस्चन एरिक्सन को साइन करना चाहता है। खबरों के मुताबिक पुर्तगाल इंटरनेशनल क्रिस्टियानो रोनाल्डो के तुरीन मूव के बाद स्पैनिश जाएंट्स के लिए करंट सीजन काफी मुश्किल भरा रहा है।


लीग टेबल में वह फिलहाल छठे स्थान पर है। द सन का दावा है कि रियल मैड्रिड के प्रेसिडेंट फ्लोरेंटिनो पेरेज़ क्लब को दुरुस्त करने के लिए एक बड़ी रकम खर्च करने के लिए तैयार हैं। रोनाल्डो के जाने से आए खालीपन को भरने के लिए वह रैशफोर्ड और एरिक्सन को साइन करना चाहते हैं।

गौरतलब है कि रैशफोर्ड को देखने के लिए रियल मैड्रिड ने वेम्बले में रविवार को स्काउट्स भेजे थे और क्रोएशिया के खिलाफ उनकी परफॉर्मेंस से क्लब काफी इंप्रेस है। मेट्रो में छपी खबर के मुताबिक रियल मैड्रिड के करंट मैनेजर सैंटियागो सोलारी मैनचेस्टर यूनाइटेड अटैकर रैशफोर्ड के बहुत बड़े फैन हैं।


क्लब को लगता है कि बर्नबेयु क्लब के लिए ओल्ड ट्रैफर्ड छोड़ने के बाद वह रोनाल्डो के ट्रांसफॉर्मेंशन को दोहरा सकते हैं। यूरोपियन जाएंट्स रैशफोर्ड को 50 मिलियन पौंड में साइन करने की उम्मीद कर रहे हैं जबकि उनकी नज़र एरिक्सन पर भी हैं। वह उन्हें अपने मिडफील्डर लूका मॉड्रिच के लॉन्ग टर्म रिप्लेसमेंट के रूप में देखता है।


क्लब को उम्मीद है कि वह एरिक्सन को 40 मिलियन पौंड की डील में लुभाने में सफल रहेगा। गौरतलब है कि हाल में रियल मैड्रिड के कई सारे स्काउट्स को ओल्ड ट्रैफर्ड में देखा गया है।


रेड डेविल्स को लगा था कि स्पैनिश जाएंट्स की नज़र उनके मिडफील्डर पॉल पोग्बा पर है। पर रैशफोर्ड ने सबका अटेंशन अपनी ओर खींचा है। रियल मैड्रिड के अलावा ​युवेंटस भी रैशफोर्ड में इंट्रेस्टेड है।