​​मैनचेस्टर यूनाइटेड लेजेंड पॉल स्कोल्स ने क्लब के मैनेजर होज़े मोरीनियो पर आरोप लगया है कि युवेंटस के खिलाफ गेम में पुर्तगाली कोच में क्लास की कमी थी। गौरतलब है कि बीती रात आलियांज़ एरेना में खेले गए चैंपियंस लीग ग्रुप H में खेले गए गेम में हुआन माटा और ​युवेंटस डिफेंडर एलेक्स सांद्रो के ओन गोल ने यूनाइटेड को 2-1 से जीत दिलाई थी।


रविवार को होने वाले डर्बी गेम से पहले रेड डेविल्स के लिए यह जीत उनका मोराल बूस्ट करने के काम आएगी। हालांकि स्कोल्स का मानना है कि फुल टाइम के बाद मोरीनियो द्वारा किए गए एक्शन्स जरूरी नहीं थे। उनकी उस हरकत ने शानदार परफॉर्मेंस के रंग को फीका कर दिया।

मेट्रो के मुताबिक होस्ट टीम के डिफेंडर लियोनार्डो बोनुच्ची के साथ बहस करने से पहले मोरीनियो अपने हाथ को कान पर रखकर पिच पर दौड़ पड़े थे। उनके इस जेस्चर से ऐस लग रहा था कि वह फैंस को और ऊंचा सुनना चाह रहे हैं। BT स्पोर्ट से बातचीत के दौरान स्कोल्स ने कहा, 'यह सभी जगह होता है, जहां भी वह जाता है।'


'आपको एक क्लास के साथ जीतने की जरूरत होती है। मैनेजर्स से हाथ मिलाइए, वहां जाइए और अपने फैंस का अभिवादन कीजिए। मुझे नहीं लगता कि मोरीनियो ने जो किया उसकी कोई जरूरत थी पर वह ऐसा ही है।'


बता दें कि बाद में अपने जेस्चर को एक्सप्लेन करते हुए मोरीनियो ने कहा, 'मैं 90 मिनट तक बेइज्जत हुआ था। मैं यहां अपना काम करने आया था और कुछ नहीं। मैंने अंत में किसी को ऑफेंड नहीं किया। मैंने केवल एक जेस्चर बनाया कि मैं उन्हें और तेज़ सुनना चाहता हूं। संभवत: मुझे ऐसा नहीं करना चाहिए था और शांत दिमाग से मैंने नहीं किया पर मेरे परिवार की बेइज्ज़ती हुई जिसमें मेरी इंटर फैमिली भी थी इसलिए मैं इस तरह से रिएक्ट किया।'