​सेरी ए क्लब युवेंटस कोच मैक्स अलेग्री का मानना है कि मैनचेस्टर यूनाइटेड के मिडफील्डर मारुआन फलइनि ने बीती रात खेले गए चैंपियंस लीग गेम में डिफरेंस क्रिएट किया है। उनके मुताबिक बेल्जियम इंटरनेशनल ने रेड डेविल्स को 2-1 से जीत दिलाने में काफी मदद की है।


गौरतलब है कि आलियांज़ अरेना में खेले गए ग्रुप H गेम में युवेंटस की तरफ से उसके स्टार क्रिस्टियानो रोनाल्डो ने स्कोर किया था। 1-0 से पिछड़ने के बाद यूनाइटेड ने फलइनि को गेम में इंट्रोड्यूस किया था जिसके बाद हुआन माटा और होस्ट टीम डिफेंडर एलेक्स सांद्रो के ओन गोल की मदद से विजिटर्स ने जीत दर्ज़ कर ली।

अलेग्री का मानना है कि ग्रुप H क्लैश में फलइनि डिसाइसिव थे। मैच के बाद न्यूज़ कॉन्फ्रेंस का हिस्सा बने युवेंटस कोच ने कहा, 'गेम के पहले लेग में ​मैनचेस्टर यूनाइटेड के पास फलइनि नहीं थे। हमने उनकी नामौजूदगी का फायदा उठाया। आज रात उसने खेला और उसकी फिजिकल प्रेजेंस तुरंत महसूस हुई।'


'उसने कुछ हाई बॉल्स को कंट्रोल किया हालांकि कुछ समय हम ग्राउंड पर बॉल के साथ अच्छे थे। फ्री किक कंसीड करना हमारी सबसे बड़ी गलती थी। यह हुआ और हमने उसकी कीमत चुकाई। हमे इससे सीखना होगा।'


फोर फोर टू के मुताबिक मैनचेस्टर यूनाइटेड से चैंपियंस लीग के दूसरे लेग मुकाबले में मिली हार के बावजूद युवेंटस 9 पॉइंट्स के साथ टॉप पर बना हुआ है।