इंग्लैंड के पूर्व प्लेयर क्रिस सटन ने कहा है कि लिवरपूल के डिफेंडर वान वर्जिल डाइक को बैलन डे ऑर की रेस में होना चाहिए। गौरतलब है कि इस अवॉर्ड के लिए शॉर्टलिस्ट किए गए 30 प्लेयर्स की लिस्ट में लिवरपूल सेंटर-बैक शामिल नहीं हैं।


हालांकि उनके चार लिवरपूल टीममेट्स एलिसन, मोहम्मद सालाह, रोबर्टो फर्मिनो और सादियो माने इस लिस्ट में जगह बनाने में सफल हुए हैं।

बैलन डे ऑर के लिए वान डाइक को लियोनल मेसी और क्रिस्टियानो रोनाल्डो के बाद तीसरे नंबर पर रखने वाले सटन ने BBC से बातचीत के दौरान कहा, 'जब आपके पास इस तरह की बातचीत होती है तब हो सकता है कि एक डिफेंडर को उसमें शामिल करना फैशनेबल न हो।'


'पर जब आप उस डिफरेंस को देखते हैं जो वान डाइक ने लिवरपूल में बनाया है तब आप देखेंगे कि वह कितना अच्छा है। वान डाइक तेज़, मजबूत, कंसिसटेंट हैं।'


'ऐसा लगता है कि वह अपनी एकाग्रता नहीं खोता है। बॉल के साथ भी उसका डिस्ट्रिब्यूशन शानदार है। वह गेम को अच्छे से पढ़ता है। उसके पास काफी क्वॉलिटी है। चेल्सी स्टार ईडन हज़ार्ड और बाकी दूसरे अटैकिंग प्लेयर्स के लिए कोलाहल मचा है।'


'मैं उसे समझता हूं पर वान डाइक ने वो क्वॉलिटी दिखाई है कि एक डिफेंडर किसी टीम में डिफरेंस क्रिएट कर सकता है।'


मिरर के मुताबिक ​लिवरपूल ने वान डाइक को विंटर ट्रांसफर मार्केट में साउथैम्प्टन से 75 मिलियन पौंड में साइन किया था।