स्पैनिश अखबार मुंडो डेपोर्टिवो के मुताबिक बार्सिलोना लियोनल मेसी के कॉन्ट्रैक्ट को एक साल के लिए बढ़ाने का फिराक में है जिससे वे प्लेयर को 2022 तक अपने पास रोक सकें। लेकिन अगर उन्होंने ऐसा किया तो मेसी के कॉन्ट्रैक्ट में एक क्लॉज है जिसके मुताबिक वह 2020 में फ्री में बार्सिलोना छोड़ सकते हैं, अगर वह किसी एलीट क्लब से ना जुड़ें तो।


ऑफिशियली मेसी ने 25 नवंबर 2017 को आखिरी बार ​बार्सिलोना के साथ अपना कॉन्ट्रैक्ट बढ़ाया था। नया कॉन्ट्रैक्ट जून 2017 में खत्म होगा। दरअसल मेसी को नया कॉन्ट्रैक्ट साइन करने के लिए मनाने में बार्सिलोना को काफी पसीना बहाना पड़ा था।


नेमार के लिए पेरिस सेंट जर्मेन द्वारा वर्ल्ड रिकॉर्ड फीस चुकाने के बाद बार्सिलोना मेसी का रिलीज क्लॉज 700 मिलियन यूरो करना चाहता था। काफी मुश्किल के बाद मेसी इस बात के लिए तैयार हुए थे।


हालांकि मुंडो डेपोर्टिवो का दावा है कि मेसी के कॉन्ट्रैक्ट में एक और रिलीज क्लॉज है जो उन्हें जून 2020 में क्लब छोड़ने की इजाजत देगा।

अगर दोनों पक्ष नए कॉन्ट्रैक्ट पर सहमति बना लेते हैं तो साल 2005 से यह मेसी का नौवां कॉन्ट्रैक्ट रिन्यूअल होगा जब उन्होंने 2010 तक का एक्सटेंशन साइन किया था। उसी साल सितंबर में मेसी का कॉन्ट्रैक्ट दोबारा से रिवाइज किया गया था।


इसके बाद साल 2007 में रियल मैड्रिड के खिलाफ कैंप नोउ में स्कोर की गई उनकी फेमस हैटट्रिक के बाद एक बार फिर से उनका कॉन्ट्रैक्ट रिन्यू किया गया था तब उनका रिलीज क्लॉज 150 मिलियन यूरो था।


साल 2009 में गार्डिओला के अंडर उन्होंने 2016 तक के लिए अपना कॉन्ट्रैक्ट बढ़ाया था और उनका रिलीज क्लॉज बढ़कर 250 मिलियन यूरो किया गया था।


दिसंबर 2012 में एक बार फिर से उनका कॉन्ट्रैक्ट रिन्यू हुआ और फिर 2014 वर्ल्ड कप से ठीक पहले भी। अभी मेसी का मौजूदा कॉन्ट्रैक्ट 2021 में एक्सपायर होगा जब वह 34 साल के होंगे और उनका रिलीज क्लॉज 700 मिलियन यूरो का है।