रिपोर्ट्स का दावा है कि ​मैनचेस्टर यूनाइटेड के मैनेजर होजे मोरीनियो इस जनवरी में क्लब के बोर्ड से दो यंग डिफेंडर्स को साइन करने की मांग करेंगे। कहा जा रहा है मोरीनियो इंटर मिलान के मिलान स्क्रिनियर और एसी मिलान के अलेसियो रोमानयोली में इंट्रेस्टेड हैं।


ESPN का दावा है कि अंडर प्रेशर पुर्तगाली कोच देखना चाहते हैं कि क्लब उनपर भरोसा कर इन दो बड़ी डील्स की अनुमति देगा या नहीं। प्रीमियर लीग के इस सीजन खराब शुरुआत के बाद से ही मोरीनियो पर काफी प्रेशर है।


हालांकि यूनाइटेड ने ज़िनेदिन ज़िदान के मोरीनियो को रिप्लेस करने की खबरों को खारिज किया है लेकिन मोरीनियो पब्लिक में बोर्ड का सपोर्ट चाहते हैं और उनका मानना है कि इसके लिए क्लब को पैसे खर्च करने होंगे।


मोरीनियो को लगता है कि क्लब द्वारा समर ट्रांसफर विंडो के दौरान ही उन्हें खर्च करने की परमिशन मिलनी चाहिए थी। यूनाइटेड ने समर विंडो में मिडफील्डर फ्रेड, फुल-बैक डिओगो डालोट और गोलकीपर ली ग्रांट को साइन करने के लिए 70 मिलियन पौंड की कुल रकम खर्च की थी।

हालांकि टोबी अल्डरवीराल्ड, हैरी मैग्वायर और डिएगो गोडिन से जमकर लिंक होने के बावजूद क्लब एक डिफेंडर साइन करने में नाकाम रहा था। मोरीनियो ने क्लब की इस नाकामी को इस सीजन खराब शुरुआत का जिम्मेदार ठहराया है।


कहा जा रहा है कि यूनाइटेड बोर्ड ने मैनेजर की बात इसलिए नहीं मानी क्योंकि मोरीनियो के ज्यादातर टार्गेट्स अपने करियर के लेटर स्टेज पर थे।


स्क्रिनियार और रोमानयोली दोनों ही 23 साल के हैं और मोरीनियो को पूरी उम्मीद है कि इस बार बोर्ड उनकी बात मान लेगा। अगर रेड डेविल्स इन दोनों प्लेयर्स को खरीद लेते हैं तो ये दोनों ही चैंपियंस लीग नॉकआउट स्टेज में खेलने के लिए अवेलेबल होंगे।


कहा जा रहा है कि दोनों ही क्लब अपने प्लेयर्स को 40 मिलियन पौंड में रेट करते हैं।