साउथ एशियन फुटबॉल फेडरेशन (SAFF) चैंपियनशिप के सेमीफाइनल में मनवीर सिंह के ब्रेस के दम पर भारत ने चिर-प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को 3-1 से हराकर फाइनल में एंट्री कर ली है। सुमित पासी ने भारत के लिए मैच का तीसरा गोल किया।


ब्लू टाइगर्स ने मैच की शुरुआत फ्रंट फुट पर की और मैच के दूसरे ही मिनट में कॉर्नर जीत लिया। आशिक और मनवीर गेम की शुरुआत से ही अच्छे टच में दिखे। गेम का पहला हाफ एंड-टू-एंड एक्शन के साथ खत्म हुआ।

भारत ने दूसरे हाफ की शुरुआत और हाई टेम्पो के साथ की। मैच के 49वें मिनट में विंग्स से आशिक की बेहतरीन डिलिवरी पर मनवीर ने अपने मार्कर को पछाड़ते हुए बॉल पाकिस्तानी गोल में उलझा दी।


पाकिस्तान लगातार भारत के फाइनल थर्ड में कुछ करने की कोशिश कर रहा था लेकिन हाइट एडवांटेज के बावजूद पाकिस्तानी प्लेयर्स कुछ खास नहीं कर पा रहे थे। टीम इंडिया के कोच स्टीफन कॉन्सटेनटिन ने मैच के 67वें मिनट में छांगटे को उतारा और उन्होंने आते ही कमाल करना शुरू कर दिया।

छांगटे ने अपने पहले ही टच से बेहतरीन स्किल दिखाई और लेफ्ट से तीन पाकिस्तानी डिफेंडर्स को पार कर बॉल विनित राय को दी जिनका फर्स्ट टच मनवीर के पास पहुंचा जिन्होंने 69वें मिनट में बॉल को पाकिस्तानी गोल के टॉप कॉर्नर में पहुंचा दिया।


पाकिस्तान ने मैच के 73वें मिनट में पहला सब्सिट्यूशन करते हुए यूनुस की जगह आदिल को उतारा। इधर भारतीय टीम ने बॉल पर लगातार कब्जा जमाए रखा और हर अटैक पर पॉजिटिव इंटेंट दिखाया।

India

यंग टीम इंडिया ने अपना बेहतरीन खेल जारी रखा और मैच के 84वें मिनट में सुमित पासी ने टीम की लीड 3-0 कर दी। फारुख ने लेफ्ट विंग पर आशिक को खोजा जिनके परफेक्ट क्रॉस पर हैडर के जरिए पासी ने टीम का तीसरा गोल स्कोर किया।


लगातार गोल्स खाने से फ्रस्ट्रेट हुई पाकिस्तानी टीम ने पिच पर बवाल करना शुरू कर दिया और मोहसिन अली  छांगटे से भिड़ गए। इस भिड़ंत के बाद शुरू हुई लड़ाई का अंत दोनों प्लेयर्स को रेड कार्ड मिलने से हुआ। पाकिस्तान ने मैच के 87वें मिनट में एक गोल वापस खींचा।


लूज हैडर के बाद हसन बशीर ने अपने सामने गिरी बॉल पर करारा प्रहार करते हुए विशाल कैथ को क्लीनशीट नहीं लेने दी।


फाइनल में टीम इंडिया को मालदीव्स का सामना करना है।