यूरोपियन क्लब फुटबॉल में इस हफ्ते भी बड़ी टीमें एक्शन में रहीं और हमें कुछ रोमांचक मुकाबले देखने को मिले। यहां हम नज़र डालेंगे यूरोप की सबसे बड़ी टीमों के वीकेंड्स पर एक नज़र...


1. एमरी और ओज़िल के बीच फूट? 

Chelsea v Arsenal - Premier League

लंदन के एमिरेट्स स्टेडियम में खेले गए प्रीमियर लीग मुकाबले में आर्सनल ने नाचो मोनरियाल और डैन्नी वेलबैक के गोल्स की मदद से वेस्ट हैम को 3-1 से मात देकर सीजन की अपनी पहली जीत दर्ज की थी। हालांकि मुकाबले के पहले आर्सनल बॉस उनाइ एमरी की टीम के स्टार प्लेयर मेसुत ओज़िल के साथ ट्रेनिंग ग्राउंड में झड़प होने की खबरें आईं थीं।


29 साल के ओज़िल को स्पैनिश कोच ने एमिरेट्स में मिली 3-1 की जीत में स्क्वॉड में जगह नहीं दी थी। ESPN ब्राज़ील के मुताबिक जर्मन मिडफील्डर की शुक्रवार को एमरी से बहस हुई थी और जब उन्हें पता चला कि वह अगले मुकाबले के लिए बेंच पर होंगे तो उन्होंने स्क्वॉड से अपना नाम वापस ले लिया।


लेकिन एमरी ने इन आरोपों को खारिज करते हुए कहा, "यह इन्फॉर्मेशन बाहर क्यों है? यह सच नहीं है। क्योंकि वह घर जा रहे थे। वह बीमार थे। प्लेयर के साथ कोई परेशानी नहीं है। क्लब के डॉक्टर्स इसे बेहतर तरीके से एक्सप्लेन करेंगे।"


2. अपने पोटेंशियल पर खरे उतरने में सक्षम हैं डेम्बेले 

FBL-ESP-LIGA-VALLADOLID-BARCELONA

ओस्मान डेम्बेले की सेकंड-हाफ स्ट्राइक से एर्नेस्टो वाल्वेर्डे की साइड ने होज़े ज़ोर्रिया स्टेडियम में खेले गए मुकाबले में पिछले सीजन के प्ले-ऑफ विनर्स रियल वायाडोलिड को मात देकर तीन पॉइंट्स हासिल किए। वायाडोलिड ने सेकंड हाफ के स्टॉपेज-टाइम में केको की मदद से बराबरी की थी लेकिन VAR से इस गोल को ऑफ-साइड करार दिया गया।


खराब सतह पर खेले गए मुकाबले में पहले हाफ में बार्सिलोना अपनी लय हासिल करने में संघर्ष करते नज़र आई और वायाडोलिड को ज्यादा परेशानियां नहीं आईं। बार्सिलोना के लिए ओस्मान डेम्बेले गेम में सबसे खतरनाक अटैकर रहे। सेकंड-हाफ में सर्जी रोबर्टो के हैडर पर अपनी वॉली से उन्होंने जॉर्डी मसिप को चकमा देकर 57वें मिनट में बार्सिलोना के लिए विनिंग गोल दागा।


पिछले सीजन बेंच गर्म करने वाले फ्रेंच फॉरवर्ड ने नए सीजन की शुरुआत अच्छी की है और अगर वह अपनी फॉर्म में कंसिस्टेंसी दिखाना जारी रखते हैं तो कैम्प नोउ में अपना पोटेंशियल पूरा करने में सफल होंगे। 


3. क्या वूल्व्स से सीख लेंगी दूसरी टीमें?

Wolverhampton Wanderers v Manchester City - Premier League

डिफेंडिंग चैंपियंस मैनचेस्टर सिटी ने अपने तीसरे प्रीमियर लीग मुकाबले में वूल्व्स से 1-1 का ड्रॉ खेलकर दो महत्वपूर्ण पॉइंट्स ड्रॉप किए। पिछले सीजन 100 पॉइंट्स हासिल करने वाली सिटी अपने शुरुआती दोनों गेम्स में शानदार फॉर्म में रही थी और आर्सनल व हडर्सफील्ड को एकतरफा मुकाबलों में हराया था और इस प्रक्रिया में कुल आठ गोल भी दागे थे।


हालांकि मोलिनेक्स स्टेडियम में पेप गार्डिओला की साइड को फ़्रस्टेट होना पड़ा। मुकाबले में वूल्व्स ने विवादास्पद अंदाज़ में बढ़त ली जब 57वें मिनट में विली बोली ने जोऊ मुटीनियो के क्रॉस पर अपने हाथ से बॉल नेट में डाला।

अयमेरिक लपोर्ट ने अच्छा रेस्पॉन्स दिया और 12 मिनट बाद खराब जोनल मार्किंग का फायदा उठाते हुए इल्काय गुंडोवान के क्रॉस पर सिटी को बराबरी दिलाई।


वूल्व्स ने मुकाबले में PL चैंपियंस का डरकर नहीं बल्कि डटकर सामना किया और अगर बाकी PL टीमें भी उनसे सीख लेकर सिटी के खिलाफ जीतने की कोशिश करेंगी तो चैंपियंस की राह आसान नहीं होगी।


4. अपने बेस्ट पर आने में समय लेगा युवेंटस का अटैक 

FBL-ITA-SERIEA-JUVENTUS-LAZIO

तुरीन में ख़चाख़च भरे स्टेडियम में क्रिस्टियानो रोनाल्डो ने अपना होम डेब्यू किया और शुरुआत में कुछ नर्वस मोमेंट्स के बावजूद युवे ने अपना विनिंग रन जारी रखने में कामयाबी पाई। हालांकि रोनाल्डो के युवे शर्ट में पहले कम्पटीटिव गोल का इंतज़ार और लम्बा हो गया।


मिरालेम यानिच के फर्स्ट-हाफ गोल के बाद रोनाल्डो दूसरा गोल दागने के करीब आए, लेकिन वह बॉल के साथ सही कनेक्शन बनाने में असफल रहे और पीछे खड़े मंजुकिच ने बॉल जाली में डालने में कामयाबी पाई।


युवे बॉस मैक्स अलेग्री ने मुकाबले के लिए डगलस कोस्टा और पाउलो डिबाला को ड्रॉप किया और क्रिस्टियानो रोनाल्डो को लेफ्ट-फ्लैंक में स्टार्ट दिया। मारियो मंजुकिच की अच्छी मूवमेंट के चलते रोनाल्डो मुकाबले में खतरनाक दिखे। यह साफ़ है कि रोनाल्डो को नए माहौल में ढ़लने के लिए वक्त की आवश्यकता होगी लेकिन जैसे-जैसे युवे के प्लेयर्स की बीच आपसी समझ बेहतर होती जाएगी, टीम के अटैक में शार्पनेस नज़र आने लगेगी।


5. डॉर्टमंड का कमाल 

Borussia Dortmund v RB Leipzig - Bundesliga

पिछले सीजन पीटर बोस्ज़ और पीटर स्टोगर की खराब अपॉइंटमेंट के बाद डॉर्टमंड ने इस समर लुसियान फाव्रे पर भरोसा जताया और अपनी टैक्टिकल इंटेलिजेंस के लिए जाने वाले कोच ने लाइपज़िग के खिलाफ 4-1 की जीत मास्टरमाइंड की।


एक्सेल विट्सल की ओवरहेड किक और महमूद दाहोद के शानदार हैडर की बदौलत डॉर्टमंड ने बिना रिस्क उठाए बड़ी जीत दर्ज की। वहीं लाइपज़िग को नाबी केइटा की कमी महसूस हुई। बायर्न अब भी बुंदसलिगा रेस में आगे है लेकिन अगर मार्को रोएस स्वस्थ रहते हैं और क्रिश्चियन पुलिसिक कमाल दिखाते हैं तो कुछ भी संभव है।


6. संकट में मोरीनियो की यूनाइटेड 

Manchester United v Tottenham Hotspur - Premier League

टॉटेन्हम के खिलाफ होने वाले गेम में जाने के पहले ही मैनचेस्टर यूनाइटेड के बॉस होज़े मोरीनियो पर काफी दबाव था और ओल्ड ट्रैफर्ड में स्पर्स की 3-0 की जीत के बाद मैनेजर पर दबाव और भी बढ़ गया है। यूनाइटेड के अगले तीन मुकाबले बर्नली, वॉटफोर्ड और वूल्व्स के खिलाफ हैं।


कागज़ पर ये फिस्क्चर्स खराब नहीं हैं, लेकिन टर्फ मूर की ट्रिप कभी आसान नहीं होती। होर्नेट्स भी अच्छा खेल रहे हैं और अपने तीन मुकाबलों में सात गोल दाग चुके हैं और वूल्व्स ने अपने पिछले मुकाबले में मेनचेस्टर सिटी को ड्रॉ पर रोकने में कामयाबी पाई थी।


मोरीनियो इन तीनों मुकाबलों में अपनी टीम को जीत दिलाकर यूनाइटेड की असल परेशानी पर चादर ढक सकते हैं, लेकिन जिस तरह से यूनाइटेड की डिफेंडिंग रही है, इस बात के अच्छे चांसेज़ हैं कि रेड डेविल्स अगले तीनों मुकाबले हारेंगे। अगर यूनाइटेड के तीन मुकाबलों में छह पॉइंट्स होते तो यह कैम्पेन की अच्छी शुरुआत होती, लेकिन तीन मुकाबलों में महज तीन पॉइंट्स बेहद बुरी शुरुआत है।


लिवरपूल, स्पर्स, चेल्सी सभी यूनाइटेड से छह पॉइंट्स आगे हैं और ऐसे में एंटी-मोरीनियो सेंटीमेंट बढ़ता ही जाएगा। क्लब किसी हाल में चैंपियंस लीग से बाहर नहीं रहना चाहेगा और मोरीनियो के सामने अब उनके करियर का सबसे टास्क है।


7. जारी है PSG का विनिंग रन

Paris Saint-Germain v Angers SCO - Ligue 1

थॉमस टुकेल की PSG ने इस वीकेंड ऑन्जे को 3-1 से मात दी और 3-4-3 फॉर्मेशन में खेलते नज़र आए। नेमार, किलियन म्बाप्पे और एडिंसन कवानी सभी स्कोरशीट में रहे। लेविन कुर्जावा, मार्को वेराट्टी और दानी अाल्वेस की चोट के बावजूद टुकेल अपने स्क्वॉड से खुश दिखे और शिकायत करने के बजाय अपने रिसोर्सेज़ का इस्तेमाल किया।


जब तक PSG को FFP से छूट नहीं मिलती, उनकी परेशानियों का हल नहीं निकलेगा और टुकेल के रूप में उनके पास इस सिचुएशन से निपटने के लिए सही मैनेजर है।


8. गेम ऑफ़ द वीकेंड: नापोली 3-2 AC मिलान 

SSC Napoli v AC Milan - Serie A

सैन पाओलो स्टेडियम में खेले गए सेरी ए के मुकाबले में कार्लो अंचेलोट्टी की नापोली ने दो गोल से पिछड़ने के बाद शानदार वापसी करते हुए इटैलियन जाएंट्स एसी मिलान को 3-2 से पटखनी दी। पिओत्र ज़ीलीन्स्की ने सेकंड हाफ में 14 मिनट्स के अंतराल में दो गोल दागकर नापोली की मैच में वापसी कराई जिसके बाद बेंच से आए बेल्जियम फॉरवर्ड ड्रीस मर्टेंस ने गोल दागकर नेपल्स साइड का कमबैक पूरा किया। वहीं रोज़ोनेरी को सीजन के अपने पहले ही मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा।


डेविड कलाब्रिया द्वारा ओपनिंग हाफ में मिलान की लीड डबल करने के बाद मिलान के बॉस जेन्नारो गत्तुसो अपने पूर्व मैनेजर कार्लो अंचेलोट्टी पर जीत दर्ज करने की राह पर थे लेकिन मामला पलट गया। इसके पहले जियाकोमो बोनावेंट्यूरा ने मेहमान टीम के लिए ओपनिंग गोल दागा था। लेकिन पोलिश मिडफील्डर ज़ीलीन्स्की ने अपने दम पर दूसरे हाफ में गेम पलट दिया और दो खूबसूरत फिनिश से नेपल्स साइड की उम्मीदें जगाईं और ड्रीस मर्टेंस के 80वें मिनट विनर की मदद से नापोली ने शानदार जीत दर्ज की।


9. चेल्सी ने लगाई जीत की हैट-ट्रिक 

Newcastle United v Chelsea FC - Premier League

ईडन हज़ार्ड और मैटेओ कोवाचिच को सीजन का पहला स्टार्ट मिला और ओपनिंग 45 मिनट्स तक ब्लूज़ ने न्यूकासल के खिलाफ 80% पजेशन एन्जॉय किया। जॉर्जिनियो ने हाफ-टाइम तक पूरी न्यूकासल टीम से अधिक पासेज (86) पूरे किए, लेकिन इसके बावजूद सिर्फ पेड्रो गोल दागने के करीब आ पाए।


चेल्सी ने टून्स के बैक-5 को भेदने की काफी कोशिश की और 76वें मिनट में उन्हें सफलता मिली जब मार्कोस अलोंसो ने पेनल्टी जीतने में कामयाबी पाई। ईडन हज़ार्ड ने स्पॉट-किक कन्वर्ट करने में कोई गलती नहीं की।


होम टीम ने तुरंत रेस्पॉन्ड किया और होसेलु ने डे-आंद्रे येडलिन के क्रॉस पर हैडर से स्कोर करते हुए न्यूकासल को बराबरी दिलाई, लेकिन महज चार मिनट्स बाद दूसरे एंड पर अलोंसो के शॉट पर येडलिन बॉल अपने ही नेट में डाल बैठे और सार्री की साइड ने गेम 2-1 से अपने नाम कर जीत की हैट-ट्रिक पूरी की।


10. लिवरपूल की लगातार तीसरी क्लीन-शीट 

FBL-ENG-PR-LIVERPOOL-BRIGHTON

एनफील्ड में खेले गए प्रीमियर लीग मुकाबले में मोहम्मद सालाह के इकलौते गोल की मदद से लिवरपूल ने ब्राइटन पर 1-0 की संघर्षपूर्ण जीत दर्ज कर पूरे तीन पॉइंट्स हासिल किए। डिफेंडिंग चैंपियंस मैनचेस्टर सिटी ने वूल्व्स के ख़िलाफ ड्रॉ खेलकर दो पॉइंट्स ड्रॉप किए, ऐसे में रेड्स के पास एडवांटेज लेने का अच्छा मौका था और यर्गन क्लौप्प की हैवी-मेटल साइड ने निराश नहीं किया जब उन्होंने मोहम्मद सालाह के फर्स्ट-हाफ गोल की मदद से पिछले हफ्ते मैनचेस्टर यूनाइटेड को हराने वाली ब्राइटन को 1-0 से मात दी।


रेड्स ने मुकाबले में लगातार तीसरी क्लीन शीट रखी और यह 2013/14 सीजन के बाद से उनकी सबसे अच्छी प्रीमियर लीग स्टार्ट भी रही।  जेम्स मिल्नर ने अपनी प्रेसिंग से बिसूमा को दबाव में डालकर मिडफ़ील्ड में पजेशन छीना, जिसके तुरंत बाद नाबी केइटा, फर्मिनो और सालाह ने वन-टच पासिंग के जरिये खूबसूरत मौका बनाया और इजिप्शियन किंग के अपने शानदार साइड-फ़ूटेड फिनिश से बॉल बॉटम-कॉर्नर में डाली।


ब्राइटन ने पूरे गेम में बराबरी की काफी कोशिशें कीं लेकिन रेड्स की समर साइनिंग एलिसन ने कुछ शानदार अच्छे बचाव कर अपनी टीम की लीड प्रोटेक्ट करने में मदद की और रेड्स ने तीन महत्वपूर्ण पॉइंट्स हासिल किए।


11. लोपेतेगी की मैड्रिड ने किया प्रभावित 

FBL-ESP-LIGA-GIRONA-REAL MADRID

रियल मैड्रिड ने एस्टाडी म्युनिसिपल डी मोंटिलिवी में खेले गए ला लीगा मुकाबले में पिछड़ने के बाद शानदार वापसी करते हुए जिरोना को 4-1 से मात दी। बोर्हा गार्सिया ने 16वें मिनट में गोल दागकर लॉस ब्लांकोस को एक बार फिर बैकफुट पर धकेला। लेकिन मैड्रिड ने मार्क मुनिएसा और पर्स पोंस के खराब टैकल्स की मदद से पेनल्टीज़ अर्जित की और सर्जियो रामोस एवं करीम बेन्जेमा ने प्रत्येक हाफ में स्पॉट-किक कन्वर्ट करते हुए रियल को बढ़त दिलाई।


जिरोना गेम में आगे जाते हुए खतरनाक नज़र आ रही थी, लेकिन लोपेतेगी के अंडर रियल का डिफेंसिव स्ट्रक्चर पहले से काफी बेहतर दिखा और पिछले सीजन की तरह मैड्रिड डिफेंस में पैनिक नहीं फैला। दूसरे हाफ में रियल मैड्रिड ने टेम्पो बढ़ाया और जिरोना के थके हुए डिफेंडर्स का फायदा उठाकर बेल और बेन्जेमा ने गोल जड़कर रियल को यादगार जीत दिला दी।


12. इंटर का बुरा हाल

FBL-ITA-SERIEA-INTER-TORINO

अपना पहला मुकाबला हारने वाली इंटर ने टोरिनो के खिलाफ दो गोल्स की लीड गंवाकर 2-2 का ड्रॉ खेला। इवान पेरिसिच और स्टीफन डे व्राय के गोल की मदद इंटर 2-0 से जीत की ओर बढ़ रही थी लेकिन समीर हैंडानोविच की गलतियों से उन्हें ड्रॉ पर संतोष करना पड़ा।


इस सीजन सेरी ए टाइटल की प्रबल दावेदार मानी जा रही इंटर ने दो मुकाबलों में पांच पॉइंट्स ड्रॉप कर दिए हैं और यह कोच लुसियानो स्पालेट्टी के लिए चिंता का विषय है।