रियल मैड्रिड अपने यूथ प्रोडक्ट मार्को अलोंसो को वापस से बर्नबेयु लाने में दिलचस्पी ले रहा है। इस रेस में उसे अपने सिटी राइवल एटलेटिको मैड्रिड से भिड़ना होगा।


एटलेटिको इस स्पेन इंटरनेशनल को फिलिपे लुइस के संभावित रिप्लेसमेंट के तौर पर साइन करना चाह रहा है। ऐसे में दोनों क्लबों के बीच अलोंसो को लेकर जंग होने की संभावना है। दोनों ही स्पेन इंटरनेशनल के बड़े प्रशंसक हैं। प्रीमियर लीग में शानदार परफॉर्मेंस करने के बावजूद सिर्फ 30 मिलियन यूरो की ट्रांसफर फीस में अवेलेबल अलोंसो ला लीगा जाएंट्स के लिए बेहद किफायती विकल्प के रूप में सामने हैं।


स्पैनिश अख़बार AS के मुताबिक प्रीमियर लीग के पिछले सीजन शानदार परफॉर्मेंस करने वाले अलोंसो ने अपनी फॉर्म इस सीजन भी जारी रखी है। उन्होंने आर्सनल के खिलाफ खेले गए गेम में स्कोर कर चेल्सी को 3-2 से जीत हासिल करने में मदद की थी।

उन्होंने यह दिखाया है कि डिफेंस के साथ-साथ वह टीम के अटैक में भी अहम रोल अदा कर सकते हैं। बता दें कि अलोंसो रियल मैड्रिड की यूथ अकैडमी ला फैबरिका के प्रोडक्ट हैं। बोल्टन वॉन्डरर्स और फियोरेंटिना के साथ शानदार स्पेल के बाद साल 2016 में वह 30 मिलियन यूरो की फीस में स्टैमफोर्ड ब्रिज गए थे।


रियल मैड्रिड और एटलेटिको मैड्रिड तभी से अपनी निगाहें अलोंसो पर जमाए हुए हैं। बता दें कि एटलेटिको का इरादा इस समर अलोंसो को साइन करने का नहीं था पर फिलिपे लुइस के संभावित पेरिस सेंट जर्मेन डिपार्चर ने एटलेटिको को अलोंसो में इंट्रेस्ट लेने पर मजबूर कर दिया।


इधर थियो हर्नान्डेज़ की लोन एक्ज़िट के चलते रियल मैड्रिड के ऑफिशियल्स ने अलोंसो को अपने रडार पर लिया है। बता दें कि अलोंसो यूरोपियन जाएंट्स के नए कोच हुलेन लोपेतेगी के साथ क्लब के यूथ सेटअप में काम कर चुके हैं।

FBL-ENG-PR-CHELSEA-ARSENAL

इंग्लिश ट्रांसफर विंडो बंद हो चुका है जिसका मतलब है कि प्रीमियर लीग के क्लब्स साइनिंग्स नहीं कर सकते पर प्लेयर्स को बेच सकते हैं। ऐसे में रियल और एटलेटिको दोनों की कोशिश स्पैनिश ट्रांसफर विंडो बंद होने से पहले अलोंसो को साइन करने की होगी।


इधर एटलेटिको ने मान लिया था कि उनका इस ट्रांसफर में बिजनेस हो चुका है पर अगर फिलिपे क्लब छोड़ते हैं तो अलोंसो उनके रडार पर होंगे। ​रियल मैड्रिड की बात करें तो उसे फिलहाल एक फुल-बैक की जरूरत है जो लेफ्ट-बैक मार्सेलो की मदद कर सकें। साथ ही सेंट्रल डिफेंस में भी खेल सके।


अगर अलोंसो इस समर ​चेल्सी नहीं छोड़ेंगे तो एटलेटिको और रियल दोनों ही उन्हें अगले विंडों में साइन करने की कोशिश करेंगे।