क्रिस्टियानो रोनाल्डो ने पुर्तगाल की वर्ल्ड कप एग्जिट के बाद सोमवार को रूस से उड़ान भरी, लेकिन वह ज्यादा समय तक सुर्ख़ियों से दूर नहीं रहे और मंगलवार तक उनके युवेंटस मूव करने की खबरें आने लगीं।


क्रिस्टियानो रोनाल्डो और ​रियल मैड्रिड से जुड़ी हर चीज़ समझना काफी पेचीदा होता है। आइए इन लिंक्स को पूरी तरह समझने की कोशिश करते हैं। 


1. तो क्या युवेंटस ने रोनाल्डो के लिए ऑफर किया है?


युवेंटस ने अभी तक कुछ भी कन्फर्म नहीं किया है और न ही रियल मैड्रिड ने कुछ भी नकारा है। यह ध्यान में रखना चाहिए कि इस स्टोरी की शुरुआत मार्का- जो मैड्रिड बेस्ड अख़बार है और रियल मैड्रिड के करीब है और ए बोला - पुर्तगाली दैनिक जो रोनाल्डो के करीब है, ने पब्लिश किया था।

हालांकि बीती रात बीबीसी स्पोर्ट ने भी अपनी रिपोर्ट में कहा है कि युवेंटस ने रोनाल्डो के लिए 100 मिलियन यूरो का ऑफर दिया है। 


2. अखबारों से क्या फर्क पड़ता है?


मार्का और ए बोला दोनों की स्टोरी एक समय में एक वक्त पर आई थी, और रोनाल्डो और उनके एजेंट होर्हे मेंडेस पुर्तगाली हैं। मेंडेस नए मैड्रिड बॉस हुलेन लोपेतेगी के भी एजेंट हैं, इसलिए मेंडेस इस स्टोरी के सूत्र हो सकते हैं, लेकिन यह साफ़ है कि इन लिंक्स से उन्हें भी फायदा होगा।


3. कैसे होगा फायदा?


अगर आप रोनाल्डो हैं, तो आप हमेशा चाहेंगे कि आपके पास दूसरे क्लबों से ऑफर रहे ताकि आप अपनी डिमांड्स पूरी कर सकें। वहीं मैड्रिड के लिए भी यह अच्छी बात है क्योंकि वे उन्हें बेचकर बड़ा फंड जुटा सकते हैं और अन्य खिलाड़ियों में बड़ी इन्वेस्टमेंट कर सकते हैं। इसलिए मेंडेस और मैड्रिड दोनों को फायदा है।


रोनाल्डो ने चैंपियंस लीग फाइनल के कुछ मिनट्स बाद ही क्लब छोड़ने की बात कही थी जबकि उनका कॉन्ट्रैक्ट 2021 तक है। या तो वह सच में जाना चाहते हैं, या एक नई डील हासिल करना चाहते हैं, खासकर इसलिए क्योंकि नेमार और मेसी दोनों के वेज उनसे काफी अधिक हैं।

या यह भी हो सकता है कि रोनाल्डो जानते हैं कि वह अपने करियर के अंतिम पड़ाव में है, वहीं मैड्रिड ने अपने नए एरा के लिए नए मैनेजर को अपॉइंट किया है जो नए प्लेयर्स को साइन करेंगे, जिससे टीम में उनकी पोज़िशन पर सवाल खड़े हो जाएंगे। अगर एक अच्छा ऑफर टेबल में है, चाहे वो सच में हो या नहीं, तो उनकी नेगोसिएशन पोज़िशन मजबूत हो जाती है।


4. क्या रियल मैड्रिड उनकी सैलरी नहीं बढ़ाएगा?


ऐसा रिपोर्ट किया गया था कि मैड्रिड उनकी सैलरी को तकरीबन 50% प्लस बढ़ाएगी और वह कमाई के मामले में नेमार को पीछे छोड़ देंगे। लेकिन जैसा हमने पहले बताया, रोनाल्डो के लिए यह सिर्फ पैसे की बात नहीं है, स्क्वॉड में उनका स्टेटस भी काफी महत्वपूर्ण है।


5. रियल मैड्रिड को कैसे होगा फायदा?


रोनाल्डो एक शानदार प्रोफेशनल हैं जिनका पिछला सीजन शानदार रहा था। लेकिन रियल ने उन्हें पहले ही जून 2021 तक का कॉन्ट्रैक्ट दे रखा है, जब वह 36 के हो जाएंगे। रियल के स्क्वॉड में उम्रदराज खिलाड़ियों की कोई कमी नहीं है और आप बतौर क्लब नहीं चाहेंगे कि सारे प्लेयर्स एक साथ अपने करियर के अंतिम पड़ाव पर पहुंचे।रियल ने 2013 में गारेथ बेल के बाद से गलैक्टिको साइनिंग भी नहीं की है।


अगर वे एक और सुपरस्टार लाने की कोशिश करते हैं तो वो प्लेयर चाहेगा कि उसे लगातार गेमटाइम मिले और वो नए एरा में नई टीम का नायक हो। इसके बाद फायनैंशियल पहलु भी है, रोनाल्डो को बेचकर रियल अपने फंड्स भी बढ़ा सकती है।

बेशक, फ्लोरेंटिनो पेरेज़ ऐसे मैड्रिड प्रेसिडेंट के रूप में नहीं याद रखे जाना चाहेंगे जिन्होंने रोनाल्डो को बेचा, लेकिन अगर रोनाल्डो खुद जाना चाहते हैं और अगर दाम सही मिले, तो पेरेज़ उन्हें रिलीज़ कर सकते हैं। रोनाल्डो का ऑफिशियल रिलीज़ क्लॉज़ 1 बिलियन यूरोज़ का है और पेरेज़ और मेंडेस ने अग्रीमेंट बनाई है कि रियल उन्हें 100 मिलियन यूरो की रकम में जाने देगा।


यह एक रीयलिस्टिक प्राइस है और अगर रोनाल्डो मूव के लिए हामी भरते हैं तो पेरेज़ यह कह सकते हैं कि उनके पास उन्हें बेचने का अलावा कोई विकल्प नहीं था। जो एक तरह से सभी पार्टीज़ के लिए फायदेमंद होगा।


मेंडेस और रियल मैड्रिड द्वारा इस प्राइस को सेट करने का एक फायदा यह भी है कि इससे ज्यादा से ज्यादा क्लब रोनाल्डो में दिलचस्पी दिखाएंगे। विश्व में ऐसे कम ही क्लब हैं जो रोनाल्डो को अफोर्ड कर सकते हैं, और यह सभी क्लबों को निमंत्रण है - बार्सिलोना, PSG और मैनचेस्टर यूनाइटेड छोड़कर।


 6. क्या किलियन म्बाप्पे और नेमार को साइन करने की कोशिश करेगा रियल मैड्रिड?


जी हां, पूरे समर रियल मैड्रिड इसी कोशिश में रहेगा, लेकिन PSG ने कहा है कि दोनों कही नही जाएंगे। रियल ने दोनों प्लेयर्स की लिंक्स को ऑफिशियली नक़ारा है लेकिन इसके पीछे कारण यह है कि वे नेगोसिएशन में PSG का सम्मान करना चाहते हैं। हालांकि दो चीज़ें ऐसी है जिससे PSG अपने स्टार्स को बेचने पर मजबूर हो सकता है? एक यह है कि उन्हें बदले में रोनाल्डो और बेल जैसे बड़े प्लेयर्स मिलें। और दूसरा है फायनैंशियल फेयर प्ले।


7. FFP? PSG को तो क्लियर किया गया था?


यहां से चीज़ें कम्प्लीकेट होती हैं। PSG को पिछले तीन सालों के लिए क्लियर किया गया है यानी कि 30 जून, 2017 तक, तब नेमार और म्बाप्पे की डील्स नहीं हुई थी। अगले तीन साल के पीरियड में ये डील्स उनके खाते में शामिल होंगी। UEFA ने इसे अब तक रिव्यु नहीं किया है। अगर UEFA अपने अगले रिव्यु में कुछ गड़बड़ी पाती है, तो PSG को अपने प्लेयर्स बेचने पर मजबूर होना पड़ सकता है।


8. क्या युवेंटस सच में इंट्रेस्टेड है?


युवे हर हाल में रोनाल्डो को तुरीन लाना पसंद करेगी। क्लब प्रेसिडेंट बेप्पे मरोट्टा ने रोनाल्डो के एजेंट होर्हे मेंडेस से कुछ दिनों पहले जोऊ मारियो की डील पूरी की थी और इस दौरान रोनाल्डो को लेकर भी चर्चा की थी।


युवे को रोनाल्डो को प्रति सीजन 60 मिलियन यूरोज़ देने होंगे, यह युवेंटस के वेज बिल का 40% है। फिर उन्हें प्लेयर की उम्र, उनके कॉन्ट्रैक्ट की अवधि को भी ध्यान में रखना होगा, और वे यह भी जानते हैं की रोनाल्डो की री-सेल वैल्यू काफी कम होगी।

ऐसे में रोनाल्डो को अफोर्ड करने के लिए युवे को अपने कुछ प्लेयर्स को बेचना होगा जिससे उनके रेवेन्यू मैनेज हो सकें और वे FFP के नियमों का पालन कर सकें। उन्होंने अगले तीन सीज़न्स की टिकटें पहले ही बेच दीं हैं, वहीं चैंपियंस लीग से भी लगातार आमदनी आ रही है।


एकमात्र एरिया जहां वे अपना रेवेन्यू बढ़ा सकते हैं, वो है कमर्शियल। रोनाल्डो इसमें उनकी मदद करेंगे, लेकिन क्या उनकी मौजूदगी से 70 मिलियन यूरोज़ प्रति सीजन की खाना-पूर्ति हो पाएगी? यह मुश्किल है।


वहीं युवे बॉस मैक्स अलेग्री का लक्ष्य चैंपियंस लीग जीतना है और अगर उन्हें चैंपियंस लीग का बेस्ट प्लेयर मिलता है तो वे उन्हें टीम में ख़ुशी-खशी शामिल करेंगे। रोनाल्डो के लिए भी यह मूव फायदेमंद होगा। अगर वे युवे के साथ डोमेस्टिक और चैंपियंस लीग टाइटल्स जीतते हैं, तो वे तीन अलग-अलग देशों में अपनी महानता साबित करेंगे, जो उनके GOAT स्टेटस के दावे के लिए फायदेमंद होगा।


9. क्या कोई अन्य क्लब है जो रोनाल्डो को अफोर्ड कर सकता है?


हां, लेकिन आपको यह भी देखना होगा कि उन्हें खरीदने वाले क्लब को न सिर्फ ट्रांसफर फीस देनी है बल्कि उन्हें लम्बा कॉन्ट्रैक्ट भी देना है जिसमें उनके वेज काफी अधिक होंगे। इसलिए यह लिस्ट लम्बी नहीं है। 

मैनचेस्टर यूनाइटेड एकमात्र ऑप्शन है, लेकिन अब तक हमें कोई लिंक्स देखने नहीं मिली हैं। मेंडेस, रोनाल्डो और मोरीनियो दोनों को रिप्रेजेंट करते हैं। अगर इंग्लिश क्लब इस डील के लिए पुश करता है तो यह हो सकता है। हालांकि रियल ने साफ़ किया है कि वे PSG, मैनचेस्टर यूनाइटेड और बार्सिलोना को सिर्फ 100 मिलियन यूरोज़ में नहीं बेचेंगे।


10. क्या होगा?

अभी फ़िलहाल कुछ भी साफ़ नहीं कहा जा सकता, लेकिन अंत में यही संभव है कि रोनाल्डो की सैलरी बढ़ाई जाए और हुलेन लोपेतेगी उन्हें रेगुलर गेमटाइम का वादा करें, जिससे वह मैड्रिड में रुकें। रियल उनकी बजाय करीम बेन्जेमा और गारेथ बेल को बेचकर नेमार और म्बाप्पे को साइन करने की कोशिश करे। वे इसमें कितने सफल हो पाएंगे, ये FFP और PSG दोनों पर निर्भर करेगा। 


हालांकि एक बात तो पक्की है, अगर रोनाल्डो को रियल मैड्रिड रोनाल्डो खोती है तो वे नेमार या म्बप्पे या दोनों या इसी क्षमता वाले किसी सुपरस्टार को साइन जरूर करेंगे।