फुटबॉल क्लब बार्सिलोना की हालत अभी बॉलीवुड सुपरस्टार शाहरुख़ खान जैसी हो गई है. एक के बाद एक फ्लॉप से दोनों की काबिलियत पर सवाल खड़े किए जा रहे हैं. मगर इतनी जल्दी एक-दो फ्लॉप से इनके भविष्य पर चिंता जाहिर करना किसी नामालूम व्यक्ति का ही काम हो सकता है.


अभी कुछ दिन पहले ही ब्राजीलियन नेमार बार्सिलोना छोड़कर पेरिस जा बसा. यह दर्द अभी ताजा ही था कि पिछले हफ्ते रियल मैड्रिड ने 4 दिनों के अंदर दोनों एल-क्लासिको जीतकर बार्सिलोना के मुंह से स्पैनिश सुपरकोपा छिनकर जख्म पर नमक-मिर्च एकसाथ छिड़क दिया. 


रियल मैड्रिड से नफरत करने वाले बार्सिलोना के स्टार प्लेयर पीके ने साफ़-साफ अपनी टीम को रियल मैड्रिड से कमजोर बता दिया. साथ ही उनको लगता है कि बार्सिलोना की मौजूदा टीम पिछले 9 सालों में सबसे कमजोर है.

FBL-ESP-GAMPER-BARCELONA-CHAPECOENSE

उधर इनिएस्ता के भी क्लब छोड़ने की हवा उड़ रही है. बार्सिलोना को नेमार का विकल्प नहीं मिल पा रहा जिससे उसकी अटैक कमजोर पड़ गई है. एल-क्लासिको और उसके बाद के मैच में मेसी गेंद को गोलपोस्ट के अंदर पहुंचाने में लगातार फेल दिख रहे हैं.


सुआरेज का भी लगभग वही हाल है. मिडफ़ील्ड लचर नजर आ रही है. जावी और इनिएस्ता का विकल्प ढूंढने में बार्सिलोना असहाय नजर आ रहा है. एक गुड कम्बाइंड टीम के अभाव में मेसी अपने रंग में नहीं दिख रहे. एक शब्दों में बार्सिलोना बीते हफ्ते में अपनी पहचान के आसपास नहीं दिख रहा.


फुटबॉल पंडितों ने दबे स्वर में बार्सिलोना के पतन की बात भी करनी शुरू कर दी है. सोशल मीडिया में भी ज्यादातर बार्सिलोना के खात्मे की कहानी ही चल रही है. ऐसा लग रहा जैसे बैक-टू-बैक दो एल-क्लासिको हारकर बार्सिलोना ने एकसाथ हजारों टाइटल गंवा दिए और अब कभी जीत ही नहीं पाएगा.


मगर लेजेंड का कमबैक भी शाही अंदाज में ही होता है. एल-क्लासिको की हार से उबरकर बार्सिलोना ने रियल बेटिस को 2-0 से हराकर वापसी का संकेत दे दिया है. उम्मीद होनी चाहिए कि अगले कुछ मैचों में उसका वही चिर-परिचित अंदाज देखने को मिलेगा.

FBL-ESP-LIGA-BARCELONA-BETIS

पहले भी कई ऐसे मौके आए हैं जब कोई स्टार टीम अचानक बेपटरी होकर लीक से हट सी गई है. मगर स्टार तो स्टार होता है. उनके लिए अपना स्टारडम रिगेन करना कोई बड़ी बात नहीं. फैन्स हर समय उनके साथ होते हैं. 


और यहां तो बात बार्सिलोना की है, एक ऐसी टीम जिसके पास मेसी है. एक ऐसी टीम जिसके पास फैन्स हैं जो हर समय उनके साथ खड़े हैं. ऐसी टीम के लिए वापसी ज्यादा मुश्किल नहीं होगी और हम वहीं पुराना बार्सिलोना को देख पाएंगे जो विपक्षी को धूल चटाती नजर आएगी.