​प्रिय साथियों,

​कुछ अपरिहार्य, ना टाले जा सकने वाले कारणों के चलते हमें आपकी पसंदीदा फुटबॉल न्यूज वेबसाइट 90 मिनट हिंदी को बंद करना पड़ रहा है। बेहद अफसोस के साथ हम आपको बताना चाहते हैं कि अब आप इस वेबसाइट पर नए आर्टिकल्स नहीं देखेंगे।

​अब तक के हमारे सफर में हमने कई उतार-चढ़ाव देखे। कई खूबसूरत लोगों से हमारा परिचय हुआ। ऐसे लोग मिले जो हमेशा के लिए दिल में उतर गए हैं। हमारे इस संक्षिप्त लेकिन शानदार सफर में मिलने वाले ज्यादातर लोगों ने हमारा हौसला ही बढ़ाया।

क

हमारे आर्टिकल्स वायरल नहीं हुए लेकिन जितने लोगों तक पहुंचे, उनसे हमें भरपूर प्यार मिला। हमने अपनी तरफ से हरसंभव कोशिश की कि आप लोगों तक हमेशा सही और सटीक जानकारियां पहुंचे।


मुख्यतः फुटबॉल फैन होने के नाते हम कई बार बायस्ड भी हुए लेकिन यकीन मानिए इसमें कोई दुर्भावना नहीं थी... बैंटर ना होंगे तो फुटबॉल का मजा कम हो जाएगा ना यार।


अपने इस सफर में हमने अपने हर आर्टिकल में आपको त्रुटिहीन जानकारियां देने की कोशिश की और हो सकता है कि इस दौरान कई बार हमसे गलतियां भी हुई हों... उन गलतियों के लिए माफी।


हमारी छोटी सी टीम ने जीतोड़ मेहनत कर भारत में हुआ अंडर-17 वर्ल्ड कप पूरी तरह से कवर किया। वर्ल्ड कप के दौरान हमने दिल्ली में मौजूद रहकर काफी फैंस से बातचीत की, उनके विचार जाने।

अंडर 17 वर्ल्ड कप में भारत के हर मैच के दौरान हम प्रेस बॉक्स की जगह फैंस के बीच में बैठे क्योंकि हम भी आप के जैसे ही हैं। हमने इस साल रूस में हुए फीफा वर्ल्ड कप की हिंदी में सबसे बेहतरीन कवरेज की और ऐसा हम नहीं बल्कि आप लोग ही कहते हैं।


तमाम किस्सों, जीवनियों, प्लेयर्स की पर्सनल लाइफ के साथ हार्डकोर खबरों में हमने कभी भी अपनी क्वॉलिटी से समझौता नहीं किया और इसका हासिल हमें आपके अथाह प्यार के रूप में मिला। ​इस शानदार सफर में हमारे साथ बने रहने वाले तमाम लोगों का हम तहेदिल से शुक्रिया अदा करते हैं।

90 मिनट अंग्रेजी समेत कई अन्य भाषाओं में भारतीय फुटबॉल फैंस के साथ बना रहेगा लेकिन हिंदी का हमारा सफर यहीं खत्म होता है। अपनी पसंदीदा वेबसाइट साथ जुड़े रहने के लिए हमारे अंग्रेजी फेसबुक और ट्विटर पेज को लाइक/फॉलो करें।

एक बार फिर से आप सभी का शुक्रिया और सभी को खूब सारा प्यार......


टीम 90 मिनट हिंदी