मंगलवार की देर रात रोमा के खिलाफ चैंपियंस लीग गेम में जीत दर्ज़ कर टूर्नामेंट के लास्ट-16 में एंट्री करने वाले रियल मैड्रिड ने यूरोपियन कॉम्पटिशन में एक और रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है।


गौरतलब है कि फुटबॉल क्लब बार्सिलोना, ​बायर्न म्यूनिख, मैनचेस्टर सिटी, रोमा, युवेंटस और मैनचेस्टर यूनाइटेड ने भी लास्ट-16 में अपनी मौजूदगी को पक्का किया है। स्पैनिश आउटलेट मार्का के मुताबिक रियल मैड्रिड एक ऐसी टीम है जिसने सबसे ज्यादा बार ग्रुप स्टेज से क्वॉलिफाई किया है।

यूरोपियन जाएंट्स ने 23 बार ग्रुप स्टेज से क्वॉलिफाई किया है जिसमें उन्होंने ऐसा 22 बार लगातार किया है। बता दें कि 1997-98 सीजन के बाद से वह ग्रुप स्टेज से लास्ट-16 में जाने में कभी असफल नहीं हुए हैं।


1999-00 और 2002-03 कैंपेन के बीच चैंपियंस लीग के फॉर्मेट के हिसाब से सभी टीमें जो पहला ग्रुप पास कर चुकी होती थी उन्हें एक दूसरा ग्रुप खेलना होता था। रियल मैड्रिड ने चारों में पार्टिसिपेट किया है और अगले स्टेज में जाने में सफल हुआ है।


क्लब के मैनेजर सैंटियागो सोलारी की टीम अपने ग्रुप में टॉप पर रहते हुए क्वॉलिफाई करने में सफल रही है। यह एक ऐसी स्थिति है जो उन्हें राउंड 16 के दूसरे लेग गेम को सैंटियागो बर्नबेयु में खेलने का फायदा पहुंचाएगी। कुल मिलाकर देखा जाए तोरियल मैड्रिड ने 15 दफा बतौर ग्रुप विजेता फिनिश किया है।


​बार्सिलोना, बायर्न म्यूनिख और मैनचेस्टर यूनाइटेड 22 बार ग्रुप स्टेज से क्वॉलिफाई करने में सफल रहे हैं जबकि सेरी ए जाएंट्स युवेंटस ने ऐसा केवल 19 बार किया है। इस सीजन वलेंसिया हार के साथ ही टूर्नामेंट से बाहर हो गया है पर इससे पहले चैंपियंस लीग के 9 एडिशंस में ग्रुप स्टेज से आगे क्वॉलिफाई करने में सफल हुआ था।