मैनचेस्टर यूनाइटेड के मैनेजर होज़े मोरीनियो का ओल्ड ट्रैफर्ड करियर काफी अलग ढंग से चल रहा है। बीती रात यंग बॉयज के खिलाफ खेले गए चैंपियंस लीग गेम में मिडफील्डर मारुआन फलइनि के गोल के दम पर यूनाइटेड ने किसी तरह जीत दर्ज़ की है। इस जीत के बाद मोरीनियो ने अपने चाहने वालों को खास संदेश दिया है।


फलइनि ने स्टॉपेज टाइम में गोल कर रेड डेविल्स को चैंपियंस लीग के लास्ट-16 में पहुंचाया है। स्पैनिश अख़बार AS के मुताबिक फलइनि द्वारा स्कोर किए गोल के बाद मोरीनियो ने टचलाइन पर वॉटर बॉटल के एक केस को किक किया था जबकि उन्होंने दूसरे को अपने हाथों से उठाकर जमीन पर पटका था।


बता दें कि मार्कस रैशफोर्ड द्वारा गोल करने का मौका चूकने के बाद मोरीनियो ने अजीब रिएक्शन दिया था जिसके लिए गैरी लिनेकर और दूसरे लोगों ने पुर्तगाली कोच की काफी आलोचना की है।

करंट सीजन में सभी कॉम्पटिशन में इंग्लैंड इंटरनेशनल रैशफोर्ड ने कुल 14 गेम्स खेले हैं और केवल दो गोल्स दागे हैं। उन्होंने चैंपियंस लीग में अभी तक एक भी गोल नहीं किया है।


गेम के बाद मीडिया से बातचीत के दौरान मोरीनियो ने अपने एक्शंस को डिफेंड करते हुए कहा, 'क्योंकि मैं टचलाइन पर एक जोकर की तरह पेश नहीं आया इसका मतलब यह है कि मैंने अपना पैशन खो दिया है? मैं उसी तरह बिहेव करना प्रिफर करता हूं जैसा कि मैं कर रहा हूं। मैं बहुत मैच्योर, अपनी टीम और खुद के लिए बेहतर।


मुझे नहीं लगता कि आपको टचलाइन पर पैशन के लिए क्रेजी इंसान की तरह बिहेव करने की जरूरत है।'


अपनी बात जारी रखते हुए मोरीनियो ने कहा, 'मैं अपने कुछ चाहने वालों से कहना चाहूंगा, जो आंकड़े पसंद करते हैं- मैंने 14 बार चैंपियंस लीग में 14 बार ग्रुप स्टेज को पार किया है। मेरी कोई भी टीम कभी भी ग्रुप स्टेज से बाहर नहीं हुई। और जिस सीजन मैं चैंपियंस लीग नहीं खेला था उस सीजन मैंने यूरोपा लीग जीती है।'