पिछले समर मोनाको के यंग सेंसेशन किलियन म्बाप्पे को साइन करने के लिए यूरोप के सारे बड़े क्लबों ने पूरी जोर-आजमाइश की थी। अंततः फ्रेंच जाएंट्स पेरिस सेंट जर्मेन को इस रेस में सफलता हाथ लगी थी लेकिन यह इतनी आसान नहीं थी।


हाल में हुए कुछ खुलासों की मानें तो म्बाप्पे को साइन करने से पहले क्लब को बहुत लंबी नेगोसिएशंस करनी पड़ी थीं। कैपिटल सिटी क्लब का अपना मूव प्लान करते वक्त म्बाप्पे ने अपनी मांगों की एक लंबी लिस्ट तैयार कर रखी थी और फ्रेंच क्लब ने इसमें से कई मांगे पूरी करने से इनकार भी कर दिया था।

FBL-FRA-AMBASSADOR-MBAPPE

फुटबॉल लीक्स के हवाले से एल एक्विपे में छपे खुलासों की मानें तो म्बाप्पे अपने कॉन्ट्रैक्ट में ऐसा क्लॉज चाहते थे जिससे बैलन डे ऑर जीतने पर वह स्क्वॉड के हाईएस्ट-पेड प्लेयर बन जाएं।


बैलन डे ऑर जीतने पर वह अपनी सैलरी नेमार के बराबर यानि कि 30 मिलियन यूरो सालाना चाहते थे लेकिन क्लब ने उनकी इस मांग को मानने से इनकार कर दिया। क्लब ने इसकी जगह बैलन डे ऑर जीतने पर उन्हें 500,000 यूरो का बोनस देना मंजूर किया।


इसके अलावा क्लब ने म्बाप्पे की वह रिक्वेस्ट भी रिजेक्ट कर दी जिसके मुताबिक अगर अत्यधिक घाटे के चलते  PSG को चैंपियंस लीग से हटा दिया जाए तो क्लब उन्हें इसका कंपनसेशन दे।

TOPSHOT-FBL-EUR-C1-NAPOLI-PSG

म्बाप्पे ने साल में 50 घंटे तक प्राइवेट जेट यूज करने की मांग भी की थी लेकिन क्लब ने इसे भी रिजेक्ट कर दिया।क्लब ने म्बाप्पे को मकान का किराया और एक सहयोगी, ड्राइवर और सिक्यॉरिटी गार्ड के लिए महीने के 30,000 यूरो देने पर जरूर सहमति बनाई थी।