​FT: बर्नली 0-2 मैनचेस्टर यूनाइटेड (लुकाकू 27', 44')


बीती रात टर्फ मूर में खेले गए प्रीमियर लीग मुकाबले में मैनचेस्टर यूनाइटेड ने रोमेलु लुकाकू के फर्स्ट-हाफ ब्रेस की मदद से बर्नली को 2-0 से परास्त कर अपने मैनेजर होज़े मोरीनियो से दबाव हल्का किया।


1. मोरीनियो ने बचाई जॉब, रैशफोर्ड को मिला रेड 

Burnley FC v Manchester United - Premier League

सीजन की खराब शुरुआत के बाद आखिरकार रेड डेविल्स ने वापसी करते हुए बर्नली पर 2-0 की जीत दर्ज की, हालांकि दूसरे हाफ में मार्कस रैशफोर्ड के रेड कार्ड ने होज़े मोरीनियो के लिए जीत का स्वाद जरूर फीका किया होगा। एलेक्सिस सांचेज़ के सेकंड-हाफ रिप्लेसमेंट के रुप में आए रैशफोर्ड को दस मिनट रहते रेफरी जॉन मोस ने फिल बार्डस्ले पर हेड-बट के चलते मैदान के बाहर भेजा। इंग्लैंड फॉरवर्ड अब अगले तीन मुकाबलों के लिए सस्पेंड हो गए हैं।


इससे पहले रोमेलु लुकाकू के दो फर्स्ट-हाफ गोल की मदद से यूनाइटेड ने पहले हाफ में ही गेम में अपनी पकड़ बना ली थी और बेल्जियम स्ट्राइकर के पास दूसरे-हाफ में हैट-ट्रिक पूरा करने के काफी मौके भी आए जिसका फायदा उठाने में वह असफल रहे। पॉल पोग्बा भी 69वें मिनट में अपनी पेनल्टी कन्वर्ट करने से चूके लेकिन रैशफोर्ड के पागलपन के अलावा यूनाइटेड ने अच्छी प्रदर्शन किया।


यूनाइटेड ने मैच की शुरुआत से ही दबदबा बनाया और जो हार्ट ने बर्नली के लिए कुछ शानदार बचाव कर  स्कोरलाइन को खराब होने से बचाया। दो लगातार हार के बाद मोरीनियो को उम्मीद होगी कि यह जीत टीम के लिए टॉनिक का काम करेगी और उनके टाइटल चैलेंज को रीलॉन्च कर पाएगी।


2. फलइनि ने दिखाई अपनी उपयोगिता 

Burnley FC v Manchester United - Premier League

मारुआन फ़लइनि कभी भी पॉपुलैरिटी कॉन्टेस्ट नहीं जीतने वाले और कई यूनाइटेड फैंस के अनुसार उनमें ओल्ड ट्रैफर्ड क्लब को रिप्रेजेंट करने की क्वॉलिटी नहीं हैं। बेल्जियन मिडफील्डर के पास कोई मोमेंट ऑफ़ मैजिक नहीं है लेकिन वह पिच पर काफी इफेक्टिव हैं और टर्फ मूर में उन्होंने इस बात को साबित भी किया।


मोरीनियो ने समर में फ़लइनि को बनाए रखने के लिए काफी संघर्ष किया था और 30 साल के मिडफील्डर ने अपनी टीम की जीत में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। अपनी हाइट और प्रेजेंस का शानदार इस्तेमाल करते हुए फ़लइनि ने बर्नली स्ट्राइकर्स पर लगाम लगाया। सेट-पीस में उन्होंने महत्वपूर्ण हैडर्स जीते, बर्नली के अटैक्स को ब्रेक किया और लिंडेलव एवं स्मॉलिंग की डिफेंसिव पार्टनरशिप को शानदार सपोर्ट दिया।


3. सांचेज़ के लिए महत्वपूर्ण होगा इंटरनेशनल ब्रेक 

Burnley FC v Manchester United - Premier League

टर्फ मूर में मैनचेस्टर यूनाइटेड की जीत में एलेक्सिस सांचेज़ ने महत्वपूर्ण कंट्रीब्यूशन दिया और उनके क्रॉस पर रोमेलु लुकाकू ने यूनाइटेड का पहला गोल दागा लेकिन चिलियन को 61वें मिनट में सब्स्टीट्यूट भी किया गया।


बीती जनवरी में आर्सनल से आए सांचेज़ का यूनाइटेड में समय मुश्किल रहा है और अब तक यूनाइटेड के लिए खेले 21 मुकाबलों में उन्होंने सिर्फ तीन गोल दागे हैं। उन्होंने साउथ कोरिया और जापान के ख़िलाफ इंटरनेशनल फ्रेंडली के लिए चिलियन स्क्वॉड से नाम वापस लिया था और इस दौरान अपनी फिटनेस पर काम कर वह गेम में पैनापन वापस लाने की कोशिश करेंगे।


मार्कस रैशफोर्ड के तीन गेम्स के बैन का मतलब होगा कि होज़े मोरीनियो एक बार फिर चिलियन अटैकर पर निर्भर करेंगे। सांचेज़ आर्सनल में सेकेंडरी स्ट्राइकर के रूप में सफल हुए थे, लेकिन मोरिनियो ने उनका इस्तेमाल लेफ्ट-विंग में किया है। अगले दो हफ्ते प्लेयर और मैनेजर मिलकर उनकी बेस्ट पोज़िशन की गुत्थी सुलझाएंगे।