आइसलैंड के कोच हेईमिर हॉलग्रिमसन ने साफ किया कि उन्होंने वर्ल्ड कप के दौरान प्लेयर्स पर कोई सेक्स बैन नहीं लगाया है और वह अपने खिलाड़ियों को उनके पार्टनर्स के साथ रिश्ते बनाने से नहीं रोकेंगे।


हालांकि कोच हेईमिर हॉलग्रिमसन ने कहा कि जब तक प्लेयर्स की पत्नियां रूस नहीं पहुंच जाती, तब तक उन पर बैन रहेगा।


दरअसल, आइसलैंड के कप्तान और कोच प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे थे, तब आइसलैंड के एक रिपोर्टर ने कप्तान आरोन गुनारसन से पूछा कि क्या टीम के खिलाड़ियों के लिए सेक्स पर बैन है? तब कप्तान गुनारसन ने हंसते हुए कहा, "फिलहाल, हां।"

इसी दौरान कोच हॉलग्रिमसन ने बात आगे बढ़ाई और कहा, "हां, जब तक खिलाड़ियों की पत्नियां यहां नहीं पहुंच जातीं, तब तक तो है।" फिर उन्होंने कहा, "सेक्स पर कोई प्रतिबंध नहीं है, यह सब बकवास है।"


नाइजीरिया से मैच से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस में कप्तान आरोन गुनारसन ने मजाक में कहा कि फिलहाल हम पर 'सेक्स बैन' लगा है, तो कोच ने फौरन जवाब दिया, "जब तक पत्नियां नहीं पहुंचतीं, तभी तक ऐसा है।"  

अर्जेंटीना के खिलाफ 1-1 से ड्रॉ खेल सभी को हैरत में डालने वाली आइसलैंड टीम का मुकाबला शुक्रवार को नाइजीरिया के खिलाफ था। अपने दूसरे मैच में आइसलैंड को नाइजीरिया ने 2-0 से हार झेलनी पड़ी। अगले राउंड में क्वॉलिफाई करने के लिए उन्हें अब क्रोएशिया को हराना होगा।