प्रीमियर लीग 2017-18 सीजन प्रीव्यू: टॉप-7 क्लबों का प्रेडिक्शन, कौन बनेगा चैंपियन?

MUMBAI, INDIA - MARCH 04:  Alan Shearer and Bollywood Star and Mumbai FC team owner Ranbir Kapoor pose for a picture with the Premier League Trophy during the Premier League Live fan experience event on March 4, 2017 in Mumbai, India. (Photo by Ali Bharmal/Getty Images for Premier League)

बीती रात ​प्रीमियर लीग सीजन 2017-18 की धमाकेदार शुरुआत हो चुकी है और नए सीजन को लेकर फैंस का उत्साह चरम पर पहुंच चुका है।


इस नए प्रीमियर लीग सीजन के लिए आइए नज़र डालते हैं टॉप-7 क्लबों के सीजन प्रीव्यू पर...

7. एवर्टन

मिशन - सातवें पोजीशन से चौथे पोजीशन तक के 15 पॉइंट के गैप को कम करना और चैंपियंस लीग फुटबॉल हासिल करना। FA कप 1995 के बाद पहला सिल्वरवेयर जीतने की कोशिश करना।


ट्रांसफर गतिविधियां - टीम ने इस समर अच्छा बिज़नेस किया है और टीम की रीढ़ अब काफी मजबूत नज़र आ रही है। गोल में जॉर्डन पिकफोर्ड, डिफेंस में माइकल कीन, मिडफ़ील्ड में डेवी क्लासन और अटैक में सांद्रो अच्छे ऐडिशन हैं। इसके अलावा क्लब के पास अब वेन रूनी का अनुभव भी है। अगर एवर्टन की साइड लीग में जल्द क्लिक कर जाती है तो वह चैंपियंस लीग प्लेस के लिए चैलेंज कर सकते हैं। (8/10)


इस खिलाड़ी पर होगी नज़र - एवर्टन को लम्बे समय से एक भरोसेमंद गोलकीपर की जरूरत थी जो होम और अवे मुकाबलों में बड़ी टीमों के खिलाफ गैप को कम करे। जॉर्डन पिकफोर्ड इस जरूरत को पूरा कर सकते हैं।


कहां ध्यान देने की जरूरत - प्री-सीजन में साफ़ नज़र आया कि वेन रूनी अपने बेस्ट पर नहीं थे। मैनेजर रोनल्ड कोमन को रूनी से बेस्ट प्रदर्शन निकलवाना होगा।


कमज़ोरी - फुल बैक पोजीशन पर स्क्वॉड में डेप्थ की कमी है। रोमेलु लुकाकू के गोल्स को रिप्लेस करना बड़ी चुनौती होगी। रॉस बार्कले का जाना भी बड़ा झटका हो सकता है।


प्रीमियर लीग प्रेडिक्शन - 7th 

6. टोटेन्हम हॉटस्पर

मिशन - प्रीमियर लीग टाइटल चैलेंज, एक ट्रॉफी और चैंपियंस लीग नॉकआउट स्टेज में जगह।


ट्रांसफर गतिविधियां - स्पर्स ने समर ट्रांसफर विंडो में एक भी खिलाड़ी क्लब से नहीं जोड़ा है। हालांकि उन्होंने मैनचेस्टर सिटी को काइल वॉकर बेचा है और डैन्नी रोज़ के भविष्य पर भी संदेह है। मौजूदा समय में स्पर्स की स्क्वॉड पिछले सीजन की तुलना में कमज़ोर नज़र आती है। (4/10)


इस खिलाड़ी पर होगी नज़र - काइल वॉकर के जाने के बाद स्पर्स को उम्मीद होगी कि कीरन ट्रिपिएर उनकी जगह ले पाएंगे। हैरी केन को भी गोल दागने होंगे लेकिन स्पर्स के सबसे अहम खिलाड़ी क्रिस्चियन एरिक्सन हैं। उन्होंने पिछले सीजन 23 असिस्ट और 12 गोल किए थे। अगर वह अपनी फॉर्म बनाए रखते हैं तो स्पर्स काफी गोल्स दागेगी।


कहां ध्यान देने की जरूरत - पिछले सीजन डेडलाइन डे में 30 मिलियन पौंड की डील में आए मूज़ा सिसोको फ्लॉप साबित हुए थे। हालांकि प्री-सीजन में उन्होंने अच्छा खेल दिखाया है और अगर वह इस सीजन इम्प्रूव करते हैं तो स्पर्स को अच्छा डेप्थ दे सकते हैं।


कमज़ोरी - स्पर्स ने अभी तक स्क्वॉड डेप्थ नहीं बढ़ाया है जिसके चलते उन्हें दिकक्तों का समाना करना पड़ सकता है। शुरूआती कुछ मुकाबलों में ट्रिपिएर, लमेला, वेनयाम, सॉन इंजरी के चलते बाहर होंगे जो स्पर्स के लिए चिंता का विषय है। वेम्ब्ले की चौड़ी पिच पर खेलना भी स्पर्स के हाई इंटेंसिटी फुटबॉल के लिए परेशानी का सबब हो सकता है।


प्रीमियर लीग प्रेडिक्शन - 5th 

5. मैनचेस्टर सिटी

मिशन - प्रीमियर लीग टाइटल। ट्रांसफर विंडो में क्लब ने काफी अच्छा बिज़नेस किया है और स्क्वॉड की परेशानियां दूर की हैं। चैंपियंस लीग सेमीफाइनल स्पॉट।


ट्रांसफर गतिविधियां - सिटी ने इस समर काइल वॉकर, बेंजामिन मेंडी और डनीलो के रूप में तीन टॉप फुल बैक्स साइन किए हैं। एडर्सन के रूप में उनके पास अच्छा स्वीपर कीपर भी है। बर्नार्डो सिल्वा के आने से अटैकिंग डेप्थ और बढ़ी है। एलेक्सिस सांचेज़ या किलियन म्बाप्पे क्लब से लिंक्ड है। (9/10)


इस खिलाड़ी पर होगी नज़र - गैब्रिएल हेसुस के लिए यह बड़ा सीजन हो सकता है। पिछले सीजन इंजरी के पहले हेसुस ने अपने प्रदर्शन से काफी इम्प्रेस किया था और इस बार वह गोल्डन बूट के दावेदार होंगे। केविन डे ब्रुएने और बरनार्डो सिल्वा को भी बड़ा रोल निभाना होगा।


कहां काम करने की जरूरत - कप्तान विंसेंट कंपनी एक बार फिर टीम के लिए अहम होंगे लेकिन लम्बे समय के बाद चोट के बाद वापसी कर रहे कंपनी को अपनी फिटनेस साबित करनी होगी और अपना पुराना फॉर्म हासिल करना होगा।


कमज़ोरी - अहम खिलाड़ियों की फिटनेस सिटी के लिए मुश्किलें खड़ी कर सकतीं हैं। इल्के गुंडोवान, विंसेंट कंपनी, सर्जियो अगुएरो, गैब्रिएल हेसुस सभी खिलाड़ी इंजरी प्रोन हैं और टाइटल जीतने के लिए अहम खिलाड़ियों का फिट रहना जरुरी है। पिछले सीजन सिटी ने गोल करने के कई शानदार मौके भी गंवाए थे और इस सीजन वे क्लिनिकल होना चाहेंगे।


प्रीमियर लीग प्रेडिक्शन - विनर्स 

4. लिवरपूल

मिशन - पिछले साल पर इम्प्रूवमेंट। प्रीमियर लीग टाइटल चैलेंज। चैंपियंस लीग में छाप छोड़ना। टॉप-4 और एक ट्रॉफी।


ट्रांसफर गतिविधियां - क्लौप्प के लिए ट्रांसफर विंडो फ़्रस्टेट करने वाला रहा है और लिवरपूल अपने मुख्य टार्गेट वर्जिल वेन डाइक और नैबी कीता को लाने में असफल रहा है। डोमिनिक सोलंके और मोहम्मद सालाह स्क्वॉड में अच्छे ऐडिशन हैं और रॉबर्टसन के आने से लेफ्ट बैक पोजीशन भी मजबूत हुआ है। आखिरी तीन हफ्ते निर्णायक हो सकते हैं। (5/10) 


इस खिलाड़ी पर होगी नज़र - फिलिपे कुटीनियो। ब्राज़ीलियन स्टार बेहतरीन प्लेयर हैं लेकिन उन्हें अपने गेम में निरंतरता लाने की आवश्यकता है। सेंट्रल मिडफ़ील्ड में थोड़ा डीप रोल उन्हें सूट करेगा और मिडफ़ील्ड थ्री में प्लेमेकर के रूप में उनका गेम पर प्रभाव और बढ़ जाएगा। हालांकि उन्हें बार्सिलोना से लिंक किया जा रहा है और उनका जाना लिवरपूल के लिए घातक हो सकता है।


कहां काम करने की जरूरत - डैनिएल स्टरीज अगर क्लब के साथ बने रहते हैं तो उनके लिए एक बड़ा सीजन हो सकता है। उनकी काबिलियत पर किसी को संदेह नहीं है लेकिन फिटनेस बनाए रखना उनके लिए अति आवश्यक है। स्ट्राइकर प्री-सीजन में चोटिल हो गए थे लेकिन इस सीजन यूरोपियन फुटबॉल के होने से टीम को उनकी जरूरत पड़ेगी।


कमज़ोरी - अगर लिवरपूल अपनी बेस्ट 11 हर हफ्ते खिलाती है तो वह शायद वे टाइटल जीत जाएंगे लेकिन टीम सेकंड हाफ में इंजरी और थकान से जूझने लगती है और स्क्वॉड में डेप्थ न होने के कारण फीकी पड़ जाती है।क्लौप्प की हाई इंटेंसिटी फुटबॉल से खिलाड़ी जल्दी थक जाते हैं और इस सीजन यूरोपियन फुटबॉल होने से दिक्कतें और बढ़ सकतीं हैं।


प्रीमियर लीग प्रेडिक्शन - 6th 

3. चेल्सी

​मिशन - मौजूदा चैंपियंस चेल्सी अपना टाइटल डिफेंड करना चाहेगी और कौंटे मोरिन्हो जैसे सीजन से बचने की कोशिश करेंगे। चैंपियंस लीग में छाप छोड़ने की उम्मीद होगी।


ट्रांसफर गतिविधियां - चेल्सी को इस समर ट्रांसफर में फ़्रस्टेशन झेलना पड़ा है लेकिन क्लब ने एंटोनियो रूडिगर, टिमोऊ बकायोको और अल्वारो मोराटा के रूप में तीन अच्छी साईनिंग्स की हैं। वहीं अपने फ्रिंज खिलाड़ी नेमन्या मैटिच, नेथिनिएल चलोबाह, नाथन अाके और बर्ट्रांड ट्राओरे को बेचा है। अगर क्लब एक टॉप क्वॉलिटी खिलाड़ी लाने में सफल होता है तो यह काफी अच्छा ट्रांसफर विंडो साबित हो सकता है। (7/10) 


इस खिलाड़ी पर होगी नज़र - डिएगो कोस्टा के गोल्स को रिप्लेस करने की चुनौती क्लब रिकॉर्ड साइनिंग अल्वारो मोराटा के कंधो पर होगी और उन्हें क्लब के लिए डिलीवर करना ही होगा।


कहां काम करने की जरूरत -  मिची बत्शुआई एक टैलेंटेड स्ट्राइकर हैं जिन्हे पिछले सीजन ज्यादा मौके नहीं मिल पाए थे। उनका प्री-सीजन टूर अच्छा रहा है और इस सीजन उन्हें गोल दागने की जिम्मेदारी मोराटा के साथ शेयर करनी होगी।


कमज़ोरी - कौंटे एक गर्ममिज़ाज़ मैनेजर हैं और इस समर ट्रांसफर विंडो में चीज़ें उनके मुताबिक नहीं हुईं हैं। चेल्सी बोर्ड के साथ उनके काफी क्लैश भी हो चुके हैं और अगर बोर्ड उन्हें बैक नहीं करता है तो वह क्लब छोड़ सकते हैं।


प्रीमियर लीग प्रेडिक्शन - 3rd 

2. आर्सनल

​मिशन - प्रीमियर लीग टाइटल चैलेंज। टॉप-4 में वापसी, चैंपियंस लीग क्वॉलिफिकेशन। FA कप टाइटल डिफेंस।


ट्रांसफर गतिविधियां - एलेक्ज़ेंडर लकाज़ेट क्लब के लिए एक अच्छी साइनिंग हैं और जिरू पर बड़ा अपग्रेड हैं। वहीं सेयाद कोलासिनैक ने भी कम समय में काफी प्रभावित किया है। आर्सनल अभी भी एक या दो नए खिलाड़ियों की तलाश में है लेकिन क्लब के लिए सबसे बड़ी चुनौती एलेक्सिस सांचेज़ को क्लब में बनाए रखने की होगी। (6/10)


इस खिलाड़ी पर होगी नज़र - ग्रानीत ज़्हाका ने पिछले सीजन काफी आलोचनाएं झेली थीं लेकिन सीजन के अंत में 3-4-3 फॉर्मेशन में वह काफी कम्फर्टेबल नज़र आये थे। इस सीजन आर्सनल ज़्हाका पर काफी हद तक निर्भर होगा और कजोरला की ग़ैरमौजूदगी में डीप प्लेमेकर के रोल में ज़्हाका के लिए यह  बड़ा सीजन होगा।


कहां काम करने की जरूरत - मेसुत ओज़िल पिछले सीजन के सेकंड हाफ में अपनी फॉर्म बरक़रार नहीं रख पाए थे। आर्सनल के लिए ओज़िल बेहद अहम खिलाड़ी हैं और उन्हें अपने फॉर्म को पूरे सीजन बनाए रखने की जरूरत है।


कमज़ोरी - विनिंग मेंटालिटी। आर्सनल का स्क्वॉड बेहद टैलेंटेड है लेकिन अहम मुकाबलों में टीम में लीडर्स की कमी नज़र आती है जो टीम की नैया पार लगा सकें। आर्सनल को इस सीजन मेंटल टफनेस दिखानी होगी और मैनेजर वेंगर को टैक्टिकली फ्लेक्सिबल होने की भी जरूरत है।


प्रीमियर लीग पोजीशन - 4th 

7 / 7

1. मैनचेस्टर यूनाइटेड

​मिशन - प्रीमियर लीग टाइटल। पिछले सीजन पर इम्प्रूवमेंट। मोरिन्हो के अंडर एक और ट्रॉफी और चैंपियंस लीग क्वॉर्टरफाइनल स्टेज।


ट्रांसफर गतिविधियां - मोरिन्हो इस समर चार प्रायोरिटी साइनिंग्स चाहते थे और क्लब ने अभी तक तीन नए खिलाड़ी साइन किए हैं। रोमेलु लुकाकू को क्लब ने चेल्सी की नाक के नीचे से साइन किया। मैटिच को साइन कर टीम में स्टेबिलिटी लाई गई और डिफेंस में लिंडेलॉफ भी अच्छे ऐडिशन हैं लेकिन उन्हें प्रीमियर लीग में सेटल होने में समय लग सकता है। (7/10)


इस खिलाड़ी पर होगी नज़र - पॉल पोग्बा का डेब्यू कैम्पेन अच्छा रहा था और अब वह क्लब में पूरी तरीके से सेटल हैं। वह अभी भी युवा हैं और उनका पोटेंशियल बेहद अधिक है। इस सीजन उन्हें अपनी क्वॉलिटी दिखानी होगी और बड़े मैचों में अंतर पैदा करना होगा।


कहां काम करने की जरूरत - क्रिस स्मॉलिंग और फिल जोंस को टीम में काफी मौके मिल चुके हैं और दोनों ने ही अपने प्रदर्शन से कन्विंस नहीं किया है। अगर लिंडेलॉफ फॉर्म दिखाते हैं तो दोनों की ही टीम में जगह नहीं बननी है।


कमज़ोरी - यूनाइटेड का पिछले सीजन डिफेंसिव रिकॉर्ड अच्छा रहा था। लेकिन इसका प्रमुख कारण टीम का डिफेंसिव एप्रोच और मिडफ़ील्डर्स का सपोर्ट था। डे हेया का गोल में होना भी इसमें बड़ा फैक्टर था। इस सीजन टीम से अटैकिंग फुटबॉल की डिमांड होगी और बैक फोर का बड़ा टेस्ट हो सकता है। अभी तक सिर्फ एरिक बेल्ली और एंटोनियो वालेंसिया ने ही डिफेंस में अपने प्रदर्शन से प्रभावित किया है और बाकी खिलाड़ियों को अपना गेम इम्प्रूव करने की जरूरत है।


प्रीमियर लीग प्रेडिक्शन - 2nd          

7 / 7